BREAKING NEWS: रीता बहुगुणा ने की घर वापसी! कांग्रेस छोड़ बीजेपी में हुई शामिल! राहुल गाँधी पर दे डाला ये बयान!

रीता बहुगुणा जोशी ने सभी अफवाहों पर विराम लगाते हुए आखिरकार गुरुवार को कांग्रेस का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में शामिल होने के बाद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ‘यह फैसला बहुत सोचकर लिया. राष्ट्र और प्रदेश हित को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया.

उन्होंने राहुल गांधी पर भी बयान की ‘खून की दलाली’ वाली बात सुनकर उन्हें काफी दर्द हुआ. पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक कराकर बहुत बड़ा काम किया.’

रहुल गाँधी पर बड़ा बयान देते हुए उन्होंने कहा की जबसे राहुल गाँधी कांग्रेस के अध्यक्ष बने हैं तबसे पार्टी में किसी की भी बात नहीं सुनी जा रही है. पार्टी में राहुल गांधी से पार्टी के बड़े नेता भी क्षुब्ध हैं. जब सोनिया गाँधी पार्टी देख रही थीं तब उनकी बातें सुनी जाती थी मगर राहुल गांधी के आने से पार्टी का माहौल बहौत ख़राब है और यह बात मीडिया भी जानती है.

For more video Subscribe Hawkfeed.com

यूपी कांग्रेस की अध्यक्ष रह चुकी रीता बहुगुणा जोशी के अलावा उनके बेटे मयंक ने भी भाजपा का दामन थामा. रीता बहुगुणा जोशी के भाजपा में शामिल होने के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं. वरिष्ठ पत्रकार रामदत्त त्रिपाठी ने कहा कि पार्टी में उपेक्षा और कांग्रेस में कोई भविष्य न देखकर रीता ने यह निर्णय लिया.

त्रिपाठी ने कहा, ‘जब मायावती सरकार थी तो रीता ने बहुत जोश और निडर होकर लड़ाई लड़ी थी और कांग्रेस को मजबूत करने की कोशिश की थी, लेकिन उसके बाद उन्हें हटा दिया गया. इसके बाद से पार्टी में लगातार उनकी उपेक्षा हो रही थी. साथ ही उन्हें कांग्रेस का भविष्य भी यूपी में नहीं दिख रहा था.’

उन्होंने कहा कि दूसरी बात यह हो सकती है कि उनके भाई विजय बहुगुणा जोशी के बीजेपी में शामिल होने के बाद वे सोनिया गांधी और राहुल गांधी की विश्वस्त नहीं रह गईं थी. इसी वजह से उन्हें मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बनाया गया. उनकी जगह शीला दीक्षित को उम्मीदवार बनाया गया.

फिछले दिनों सोशल मीडिया पर उनके भाजपा में शामिल होने की चर्चा जोरों पर थी, लेकिन कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर समेत कई अन्य नेताओं ने इसका खंडन किया था.

SHARE