Exposed: नेताजी बोस ने करवाया कमला नेहरु का अंतिम संस्कार नेहरु एक बार देखने भी नही आया!

nehru with women (2)

जो लोग समझते है कि जवाहरलाल नेहरु एक अच्छे व्यक्ति थे उनकी आँखों से झूठ का पर्दा हटाने के लिए आज हम जो बात बताने जा रहे है उसे पढने के बाद वे भी नेहरु से नफरत करने पर मजबूर हो जाएंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नेहरु ने अपनी पत्नी के साथ जो किया वो बहुत ही डरावना था आपने टीवी चैनलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर इस तरह के आरोप लगे सुना होगा कि उन्होंने अपनी पत्नी को छोड़ दिया, जबकि ये सच भी नही है.

kamla

लेकिन आज हम आपको कांग्रेस पार्टी के सबसे बड़े नेता के बारे में बतायेंगे जिसे पढ़कर आप दंग रहे जाओगे. जवाहरलाल नेहरु की पत्नी कमला को टीबी की बीमारी लग गयी थी उस समय में टीबी को बहुत ही खतरनाक बीमारी समझा जाता था ओर इसका कोई इलाज भी नही इंसान केवल तड़प-तड़पकर मर जाता था ओर जिस व्यक्ति को ये बीमारी लग जाती थी उसके पास कोई भी नही जाता था क्यूंकि ये सांस द्वारा फैलती थी.

nehru with women (1)

जवाहरलाल नेहरु ने भी अपनी पत्नी को युगोस्लाविया के प्राग शहर में दुसरे इंसान के साथ सेनिटोरियम में भर्ती करवा दिया, कमला नेहरु पुरे 10 साल तक अकेले सेनिटोरियम में अपनी मौत का इंतज़ार करती रही ओर नेहरु दिल्ली में एडविना बेंटन के साथ इश्क लडाते रहे. इससे भी शर्म की बात तो ये है नेहरु कई बार ब्रिटेन गये लेकिन एक बार भी वे प्राग जाकर अपनी पत्नी के हालचाल पूछने नही गये.

नेहरु की पत्नी के बार में जब नेताजी सुभाष चंद्र बोस को पता चला तो वे सबसे पहले कमला से मिलने प्रयाग गये ओर डॉक्टरो से उनके अच्छे इलाज के बारे में बातचीत भी की, डॉक्टरो ने बताया कि उनका इलाज स्विट्ज़रलैंड के बुसान शहर में एक आधुनिक टीबी अस्पताल है वहां पर उनका इलाज हो सकता है ये सुनते ही नेताजी बोस ने 70,000 रूपये इकट्ठे किये ओर कमला को बुसान अस्पताल में भर्ती करवाया.

Edwina

कमला नेहरु को नेताजी अच्छे अस्पताल में भर्ती तो बेशक ही करवा दिया था लेकिन वे अंदर से पूरी तरह टूट चुकी थी क्यूंकि उनके पति जवाहरलाल नेहरु 10 सालों में एक बार भी उनसे मिलने नही आए ओर गैर लोग उनकी देखभाल करते रहे बस इसी गम से उन्होंने 28 फरवरी 1936 को अपने प्राण त्याग दिए.

कमला की मौत से ठीक 10 दिन पहले ही नेताजी बोस ने नेहरु को पत्र लिखकर बुलावा भेजा था लेकिन नेहरु नही आया यहाँ तक कि कमला की मौत की खबर भी नेहरु को भेजी गयी लेकिन वह फिर भी नही आया ओर फिर अंत नेताजी बोस ने ही कमला नेहरु का अंतिम संस्कार वहीँ बुसान में कर दिया.

सोर्स- http://hindutva.info/netaji-bose-kamla-nehrus-funeral-held/

SHARE