ज़ोरदार तमाचा! जो कह रहे हैं गुजरात को 7 महीने पहले ही पता था 500 और 1000 के नोट होंगे बंद! यहाँ है पूरा सच!

मोदी के 500 और 1000 के नोटों पर बैन करने से कई नेता तिलमिला गए हैं. चाहे मायावती हो यां फिर मुलायम सिंह यादव. ये नेता अपनी खीज छुपाये नहीं छुपा पा रहे हैं, चोर की दाढ़ी में तिनके वाली कहावत इन नेताओं पर बिलकुल सटीक बैठती है. इस फेहरिस्त में एक और नाम जुड गया है, राष्ट्रीयजनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव की पुत्री डॉ. मीसा भारती जिन्होंने आरोप लगाया है कि मोदीजी अपने गुजराती भाइयों को 1 अप्रैल को ही 500/1000 के नोट के बन्द होने के बारे में बता चुके थे. यहाँ तक की मीसा भारती ने उस गुजराती अखबार में प्रकाशित 500-1000 पर बैन वाली खबर को अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर शेयर करते हुए कहा.

हम आपको बता दे यह खबर सच है गुजरात में 7 महीने पहले ही अखबार में यह खबर छपी थी.

मीसा ने आगे कहा “मोदीजी अपने गुजराती भाइयों को 1 अप्रैल को ही 500/1000 के नोट के बन्द होने के बारे में बता चुके थे, पर देशवासियों को 8 नवम्बर को ही बताया गया। यही कारण है कि आज गुजरात से इस फ़ैसले के विरोध में कोई आवाज़ नहीं उठ रही क्योंकि वो पहले से तैयार थे।“ लेकिन बेचारी मीसा… आप भी जाने क्या है पूरा सच क्यूँ गुजराती अख़बार में 7 महीने पहले छपी 500 और 1000 नोट बैन होने की बात.

अगले पेज पर देखें गुजरात के 1 अप्रैल का अखबार जिसमे छपी थी 500 और 1000 के नोट बंद होने की बात…

1
2
3
SHARE