दाढ़ी कटाने को राजी नहीं हुआ मुस्लिम पुलिस कांस्टेबल, सुप्रीम कोर्ट का आदेश ठुकरा कर दिया ये जवाब

एक मुस्लिम पुलिस कांस्टेबल महाराष्ट्र स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स के दाढ़ी ना रखने की पॉलिसी का उल्लंघन करने पर पांच साल के लिए सस्पेंड कर दिया गया था। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, जहिरुद्दीन शम्सुद्दीन बेदादे को स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स ने 16 जनवरी, 2008 को कांस्टेबल के पद पर भर्ती किया था। फरवरी 2012 में जब वह जालना में तैनात था तब उसने अपने कमांडेंट से दाढ़ी रखने की इजाजत मांगी।

मई 2012 में उसे परमिशन दे दी गई। लेकिन पांच महीने बाद महाराष्ट्र गृह विभाग के दाढ़ी ना रखने संबंधि निर्देशों का हवाला देते हुए परमिशन को वापस ले लिया गया। इसके खिलाफ जहिरुद्दीन ने बॉम्बे हाईकोर्ट की औरंगाबाद बेंच का रुख किया।  सप्रीम कोर्ट ने इस मुस्लिम कांस्टेबल को प्रस्ताव दिया कि अगर वह सिर्फ धार्मिक समय (रमजान) आदि में दाढ़ी रखे और बाकि दिन शेव करा ले तो उसे नौकरी वापस मिल सकती है। परन्तु इस  मुस्लिम पुलिस कांस्टेबल ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट का यह प्रस्ताव ठुकरा दिया और कहा

Click Next करके अगले पेज पर जानें इस मुस्लिम पुलिस वाले ने भारत की सर्वोच्च सुप्रीम कोर्ट के प्रस्ताव को ठुकरा कर कोर्ट को जो जवाब दिया वो सुन कर हर हिन्दू शर्म से डूब मरेगा 

1
2
SHARE