हिंदुस्तान की इस ताकत से घबराए पाकिस्तान ने मांगी चीन से मदद !!

दरअसल , भारत द्वारा अरब सागर में परमाणु पनडुब्बी तैनात किए जाने की खबर से पाकिस्तान इतना घबरा गया कि उसने अपने सभी सैन्य अड्डों को अलर्ट कर दिया हैं . इतना ही नहीं खौफजदा पाक ने भारत के डर से अपने दोस्त चीन से भी मदद मांगी है.

बता दें कि भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान सदमे में है और भारत की परमाणु पनडुब्बी के अरब सागर में गस्त करने की खबर के बाद से ही बेचैन है . पाक ने अपनी सुरक्षा के लिए चीन की नौ सेना की सहायता भी मांगी है. उसने कहा है कि वह ग्वादर पोर्ट पर अपनी नैवी तैनात करे ताकि भारत पर दवाब बनाया जा सके. वहीं इस खबर के बाद पाक सेना सतर्क हो गयी है .

भारत से डरे पाक ने अब शांति का पाठ अलापना शुरू कर दिया है और कह रहा है कि युद्ध किसी समस्या का हल नही है . हम भारत से सभी मुद्दों पर बातचीत के लिए तैयार है .

बता दें कि भारत ने परमाणु हथियारों से लैस पनडुब्बी आईएनएस अरिहंत को नौसेना में शामिल करने से पाक घबराया हुआ है. स्वदेशी तकनीक से निर्मित इस परमाणु पनडुब्बी बैलिस्टिक मिसाइल दागने की क्षमता है . इसमें 12 शॉर्ट रेंज के -15 मिसाइल और 4 लंबी दूरी की के-4 बैलिस्टिक मिसाइल से हमले की क्षमता है . शॉर्ट रेंज मिसाइल 700 किलोमीटर तक मार कर सकती है और लंबी दूरी की मिसाइल 3500 किलोमीटर तक मार करने की क्षमता रखती है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव “तसनीम असलम” ने कहा कि भारत के परमाणु पनडुब्बी को उतारने का मकसद बहुत खतरनाक है बता दें कि इससे पाक को अब यह डर सताने लगा है कि कहीं भारत अपने सैन्य कैंपों पर हो रहे आतंकी हमलों के जवाब में इस बार समुद्र के रास्ते पाक पर हमला न कर दे.

हालाँकि भारत ने पाकिस्तान के इस परमाणु हथियारों से लैस पनडुब्बी को उतारने के आरोप को गलत बताया है ।

SHARE