अपने को भारत का दोस्त कहने वाले रूस ने दिया बड़ा धोखा! भारत की यह कोशिश कर डाली नाकाम!

हमेशा से कहा जाता रहा है की भारत और रूस के बीच का जुड़ाव ऐसा इकलौता रिश्ता है, जिसे दोस्ती का नाम दिया जाता है। यहाँ तक हिंदुस्तान खुद रूस को ‘जांचा एवं परखा’ साझेदार और ‘असली दोस्त’ तक करार दे चूका है।

रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन भी कह चुके हैं कि उनका देश भारत के भावी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ नजदीकी रूप से काम करने को उत्सुक है और रूस वायदा करता है की आर्थिक, सैन्य एवं तकनीकी सहयोग में द्विपक्षीय संबंधों को आगे ले जाने के लिए काम करेगा।

हाल ही में भारत और रूस ने अपने सामरिक संबंधों को और गति प्रदान करते हुए विभिन्न क्षेत्रों में 16 समझौतों पर हस्ताक्षर भी किये थे। इनमें 226 सैन्य हेलीकॉप्टर के संयुक्त निर्माण और 12 परमाणु संयंत्र स्थापित करना शामिल था।

लेकिन इन सब बातों को दरकिनार करते हुए रूस ने भारत को एक ज़ोरदार झटका दिया है. रूस ने दोस्ती का ख्याल न रखते हुए भारत को धोखा दिया और प्रधानमंत्री मोदी की एक बड़ी कोशिश जानबूझकर नाकाम कर डाली.रूस ने भारत को ऐसा धोखा दिया है जिसे भारत कभी नहीं भुला सकता

अगले और आखिरी पेज पर जानिए रूस ने क्यूँ भारत की पीठ में घोपा छुरा और भारत को दिया यह बड़ा धोखा…

1
2
3
4
5
SHARE