सरकार का ऐतिहासिक फैसला बिजली बनाने में अब नाले के पानी का होगा इस्तेमाल!! जाने कैसे ??

India use sewage water to produce electricity

सरकार ने एक ऐतिहासिक फैसला लेते हुए कहा की पीने के पानी की किल्लत को देखते हुए बिजली के उत्पादन में अब सीवर के पानी का इस्तेमाल किया जायेगा. केंद्र सरकार की इस पहल पर अब राज्य सरकार भी मौहर लगाने को तैयार है.

केंद्रीय बिजली मंत्रालय के मुताबिक, देश में बिजली की मांग में सालाना 6 फीसदी की दर से बढोतरी हो रही है. ऐसे में वर्ष 2027 तक कोयले से बनने वाली थर्मल बिजली की उत्पादन क्षमता 2,77,000 मेगावाट हो जाएगी.

केंद्रीय बिजली प्राधिकरण (सीईए) की रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान में सालाना 950 अरब यूनिट थर्मल बिजली का उत्पादन होता है और इसमें 7,700 मिलियंस ऑफ़ लीटर पानी हर दिन लगता है.

अगले और आखिरी पेज पर जाने कैसे बनेगी अब नाले के पानी से बिजली …

1
2
SHARE