बड़ा खुलासा : तो केजरीवाल ने इस कारण से भगवद गीता का सरेआम अपमान कर डाला. ये जान कर आपका खून खौल जायेगा

नई दिल्ली। साफ सियासत का दावा करने वाली आम आदमी पार्टी की आमदनी पर अब सवाल उठने लगे हैं।  चंदा बंद सत्याग्रह नाम की संस्था दिल्ली स्थित उनके आवास पर गई थी। संगठन ने विरोध करते हुए बताया कि केजरीवाल ने पंजाब चुनाव में 21 आपराधिक छवि के उम्मीदवारों को टिकट दिया था। इसका वे विरोध कर रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने रविवार को एक संगठन के प्रतिनिधियों से गीता की प्रति स्वीकार करने से मना कर दिया।

सीएम के आवास के बाहर संगठन के लोगों ने नारे भी लगाए। पुलिस ने संस्था के संयोजक मुनीश रैजादा सहित तीन को अंदर जाने की इजाजत दी। इसके बावजूद केजरीवाल इनलोगों ने नहीं मिले।

Click Next करके जरूर जानें आखिर क्यूँ अरविन्द केजरीवाल ने हिन्दू धर्म की सबसे सम्मानित धार्मिक पुस्तक भगवद गीता लेने से किया साफ़ मना  ?

1
2
SHARE