Why this american business tycoon left everything and came to India?

American-born Geshe Michael Roach, a fully ordained Buddhist monk, is in Varanasi for a discussion on ‘How to Use the Great Ideas of the Bhagvad Gita for Business and Personal Success’.

250 मिलियन डॉलर की अपनी कंपनी बेच कर निकले भगवद गीता का प्रसार करने l

geshe michael roch-hawkfeed

अमेरिका में जन्मे गेशे माइकल रोश, एक अति वरिष्ठ बौद्ध भिक्षु, ‘कैसे व्यापार और व्यक्तिगत सफलता के लिए गीता के महान विचारों का उपयोग करने के लिए’ पर चर्चा के लिए वाराणसी में है।
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की ओर बढ़ रहे रोश ने अपने जीवन में गीता के प्रभाव के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि गीता विश्व साहित्य की सबसे बड़ी क्लासिक्स है जो एक व्यक्तिको शांत और ध्यान केंद्रित और सफल बनाने में बहुत सहायक है?

उन्होंने कहा कि एक अमेरिकी होने के बावजूद, वह व्यक्तिगत रूप से गीता पालन करते हैं  तथा  इससे उनके जीवन में परिवर्तन का अनुभव है।

Before heading towards Banaras Hindu University, Roach spoke about the influence of the Bhagavad Gita in his life. He said that the Gita is one of the greatest classics of world literature which can change a person making them calm, focused and successful.

 

कैसे भगवद गीता ने बदली माइकल रोश की जिंदगी ?

how Bhagvad Geeta changed the life of Michael roach??

Click ‘Next’ to read complete article

1
2
SOURCEhttp://www.indiadivine.org/
SHARE